पुरानी पेंशन बहाली के मुददे को नेता प्रतिपक्ष से विस सत्र में उठाने की गुजारिश

हल्द्वानी। पुरानी पेंशन योजना को बहाल करने की मांग को लेकर राष्ट्रीय पुरानी पेंशन बहाली मंच, जनपद नैनीताल के पदाधिकारी तथा सदस्यों ने विधानसभा नेता प्रतिपक्ष डा. इन्दिरा हृदयेश से भेंट की। साथ ही शिक्षकों की इस बड़ी समस्या को आगामी विधानसभा सत्र में उठाने की मांग की गुजारिश की। कहा कि नई पेंशन योजना में शिक्षकों के हितों की अनदेखी की गई है। इस दौरान डा. इंदिरा को राष्ट्रीय पेंशन बहाली मंच जिलाध्यक्ष डा. गोकुल सिंह मर्तोलिया के नेतृत्व में एक ज्ञापन भी सौंपा गया, जिसमें शिक्षकों ने नेता प्रतिपक्ष से उनकी मांग पूरी कराने के लिए सरकार पर दबवा बनाने की बात कही है। कहा कि नई योजना के तहत पेंशन देने का जिम्मा निजी कंपनियों को सौंपा गया है इससे सरकार पेंशन देने से साफ किनारा कर रही है और निजी कंपनिया मनमानी करेंगी, जिससे शिक्षकों को पेंशन के लिए भी आजीवन संघर्ष करना पडेगा। इस अवसर पर डा. इंदिरा ने शिक्षकों को आश्वस्त किया कि वे उनकी मांग को जोरदार तरीके से विधानसभा सत्र में रखेंगी। प्रतिनिधि मण्डल में पेंशन बहाली मंच के जिला संयोजक पीसी जोशी, जिला अध्यक्ष डा.गोकुल सिंह मर्ताेलिया, जिला मन्त्री मदन सिंह बर्तवाल, प्रान्तीय सदस्य तथा इंजीनियर महासंघ के केके पाठक, जिला उपाध्यक्ष केके फुलेरा, जिला उपाध्यक्ष हेम त्रिपाठी, राज्य संयुक्त कर्मचारी परिषद के जिला मन्त्री तनवीर असगर, राजकीय शिक्षक संघ के मण्डल मन्त्री चंद्रशेखर पुजारी, आईटीआई कर्मचारी संघ के जिला महामंत्री पंकज सनवाल, राज्य कर्मचारी परिषद के प्रांतीय सम्प्रेक्षक गिरिजेश काण्डपाल, बाल विकास सुपरवाइजर्स संघ की जिला अध्यक्ष नीता दीक्षित, वन आरक्षी संघ नैनीताल के जिला अध्यक्ष शशिवर्धन, राज्य कर्मचारी परिषद के के शाखा सम्प्रेक्षक गिरीश दुर्गापाल बिजनौरी, राजकीय शिक्षक संघ के सौरभ दयाल थे।

मांग पत्र
मांग पत्र

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published.