आम्रपाली के छात्रों को दिए हुनरमंद और स्वरोजगारी बनने के टिप्स

हल्द्वानी। उद्योग विभाग की ओर से आयोजित कार्यक्रम में आम्रपाली संस्थान के छात्रों को हुनरमंद और स्वयं का व्यवसाय स्थापित करने के टिप्स दिये गए। साथ ही यह भी बताया गया कि तैयार उत्पाद को कैसे बेहतर तरीके से लोगों तक पहुंचाया जाए जिससे कि लोग उसे आसानी से प्राप्त करने के साथ ही पसंद भी कर सकें।

छात्रों को सम्बोधित करते वक्ता
छात्रों को सम्बोधित करते वक्ता

एमएसएमई विकास संस्थान परिसर में जागरूकता एवं उद्यमिता विकास कार्यक्रम आयोजित किया गया। इस अवसर पर जिला उद्योग केंद्र के महाप्रबंधक योगेश चंद्र पांडेय ने स्टार्ट अप, स्टैंड अप, डिजिटल इंडिया, जेम योजना, एमएसएमई नीति- 2015, पीएमईजीपी योजना, महिला विशेष प्रोत्साहन योजना के बारे में बताया कि इन योजनाओं का क्या मकसद है और कैसे लाभ उठाया जा सकता है। वहीं एमएसएमई निदेशक विजय कुमार शर्मा ने छा़त्रों को स्वयं का उद्योग स्थापित करने के लिए प्रेरित किया और बेसिक जानकारी प्रदान की। जिला उद्योग केंद्र के प्रबंधक सुनील पंत ने बताया कि कैसे तैयार माल उपभोक्ताओं तक आसानी से पहुंचाया जा सकता है जिससे कि उत्पाद की साख स्थापित हो सके। संजीव भटनागर ने उद्यमिता विकास का महत्व बताया। वहीं आम्रपाली संस्थान के गौरव पंत ने भी स्वरोजगार स्थापित करने पर जोर दिया। कार्यक्रम में प्रतिभाग करने के बाद छात्र-छात्राएं काफी उत्साहित नजर आए।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published.